बच्चे ही भारत के कल हैं उनकी भावनाओं को समझें

बच्चे ही भारत के कल हैं उनकी भावनाओं को समझें

राजकीय आदर्श विपिन मध्य विद्यालय में मनाया गया विश्व बाल दिवस

बेतिया  : शहर के राजकीय आदर्श बिपिन मध्य विद्यालय में स्कूली बच्चों ने मंगलवार को विश्व बाल दिवस मनाया । इस कार्यक्रम में बच्चों को चाइल्ड हेल्पलाइन व बाल अधिकारों के बारे में जागरूक भी किया गया। विद्यालय की प्रधानाध्यापिका पूनम कुमारी यादव ने सभी बच्चों को विश्व बाल दिवस पर बधाई दी। बच्चों को बाल दिवस का महत्व बताया। उन्होंने कहा कि सिर्फ सरकार की ही नहीं हम सब की नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि अपने आसपास अगर हम किसी बच्चे के भविष्य को बचाएं। इसके लिए कई सरकारी व गैर-सरकारी संस्थान काम कर रहे हैं। ये बच्चे ही भारत का कल हैं। अगर हम एक महान भारत का निर्माण करना चाहते हैं तो हमें इन मासूमों की तरफ ध्यान देना होगा। तभी जाकर हमारा भारत महान बन पाएगा। उन्होंने कहा कि बच्चों की भावनाओं को समझें। बाल दिवस को मात्र सांस्कृतिक कार्यक्रमों और समारोहों तक ही न सीमित रहने दें अपितु बाहर निकलें और उन बच्चों के लिए कुछ करें जो जीवन के अंधकार में भटक रहे हैं। हमें एक ऐसे बाल दिवस की जरूरत है जिसमें सिर्फ स्कूलों तक ही नहीं बल्कि समाज में रह रहे हर बच्चों के प्रति लोगों में  सकारात्मक सोच बन सके। मौके पर विद्यालय के शिक्षक मनीष कुमार, सुल्ताना परवीन, नूतन कुमारी, रिंकी कुमारी, चित्रांग दास, सुधा कुमारी  व छात्र मौजूद रहे।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *